Awesome 7 Wonders of the World Names in Hindi || दुनिया के सात अजूबे के नाम और फोटो

  आज हम एक ऐसी विषय के बारे में विचार करेंगे और जानेगे जो बहुत ही रोमांचक है। हम इस Article में 7 Wonders of the World Names in Hindi दुनिया के सात अजूबे के बारे में जानेगे।

 क्योकिं आज भी आपको कई ऐसे लोग मिल जायेंगे, जिन्हे विश्व के सात अजूबे का नाम अभी तक नहीं पता है।(Awesome 7 Wonders of the World Names in Hindi). जो की पूरी विश्व में प्रसिद्ध है और लोग उन स्थानों पर जाकर उन्हें देखना पसंद करते है। उनके सामने खड़े होकर तस्वीरें और सेल्फी खिचवाते है। आए जानते है उनके नाम और फोटो के बारे में।अच्छे से

कुछ लोगो को इन अजूबो के नाम के बारे में तो पता होता है, लेकिन वह इनके बारे में पूरा इतिहास नहीं जानते है.क्या आप जानते हे, विश्व में सबसे पहले अजूबो को चुनने का निर्णय कल्लिमचुस और हेरोडोटस ने लिया था।

संसार में बहुत से अजूबे हे मगर इसे सबसे पहले सात अजूबे की सूचि लगभग 2 शताब्दी ईसा पूर्व जारी की गयी थी। पुराने सभी अजूबे नष्ट हो जाने के कारण, सन 2000 में भी एक स्विस फाउंडेशन ने विश्व के सात अजूबो की सूचि में कुछ नए अजूबे जोड़ने की बात कही।

वर्तमान में उन अजूबो  में से सिर्फ ग्रेट पिरामिड ऑफ़ गिज़ा ही बचा हुआ है।

हलाकि जो लिस्ट स्विस फाउंडेशन ने निकाली थी, आइये जानते हे दुनिया के सात अजूबे कौन से है। 

click here

भारत और दुनिया के 10 सबसे अमीर आदमी 2022

Lattest Poem on Mother in Hindi | मेरी प्यारी माँ पर बेहतरीन कविताएं

Shilpi Raj MMS Viral Video Download Link | शिल्पी राज का वायरल वीडियो यहां से करे डाउनलोड

 प्राचीन विश्व के सात अजूबे कौन कौन से है उनके नाम ( 7 Wonders of the World )

प्राचीन दुनिया के सात अजूबे -सबसे पहले लगभग 2200 साल पहले आये थे. में सबसे पहले 7 अजूबे का विचार हेरोडोटस और कल्लिमचुस को आया था.

उस समय के सात अजूबे  थे (7 Wonders of the Old World ) –

  1. ग्रेट पिरामिड ऑफ़ गिज़ा
  2. टेम्पल ऑफ़ आर्टेमिस
  3. हैंगिंग गार्डन ऑफ़ बेबीलोन
  4. स्टेचू ऑफ़ ज़ीउस अट ओलम्पिया
  5. कोलोसुस ऑफ़ रोडेज
  6. माउसोलस का मकबरा
  7. लाइटहाउस ऑफ़ अलेक्सान्दिरा

इन सात अजूबों में सिर्फ अभी ग्रेट पिरामिड ऑफ़ गिज़ा बचा हुआ है और इसे अब एक 7 अजूबों से अलग एक विशेष स्थान दिया गया है. बाकि सभी अब नष्ट हो चुके है.

# दुनिया के सात अजूबे 7 Wonders of the World Names

  1. चीन की दीवार
  2. माचू पिच्चु
  3. ताजमहल
  4. पेट्रा
  5. चिचेन इत्जा
  6. क्राइस्ट रिडीमर
  7. कोलोज़ीयम

दुनिया में सिर्फ सात ही अजूबो को क्यों चुना जाता है? या कोण चुनता हे और इंडिया से सिर्फ ताजमहल को ही क्यों चुना गया  यह सवाल सब के मन में आता है। तो चलोआज  बातो का जवाब जानते है। 

विश्व में 7 ही अजूबे क्यों चुने गए। 

सात संख्या समृद्धि और प्रतिनिधित्व का प्रतिक  है। अगर हम बात करे जैसे की इंद्रधनुष की, तो उसके अंदर भी सात रंग होते है। शादी होते समय पति पत्नी सात ही फेरे लेते है। ऐसा इसी लिए है, की 7 संख्या समृद्धि का प्रतिनिधित्व करती है। आप समझ गए होंगे की विश्व में सात अजूबे क्यों हे। 

9xRockers – Download Bollywood, Hollywood, Tamil, Telegu Hindi Movies 2022

khatrimaza official Lattest dual audio 300 mb bollywood movies download

दुनिया के सात अजूबो को कैसे चुना जाता है?

दुनिया के सात अजूबो को कैसे चुना जाता है? आप को हमने ऊपर बताया जो संसार के सबसे पहले सात अजूबे है, उनमे से कुछ नष्ट हो चुके है। इसलिए 1999 से 2000 के बिच नए अजूबो को चुनने का विचार पेश किया गया।  इसीलिए दुनिया की कुछ शानदार और आश्चर्यजनक वस्तुओ को चुनने के लिए एक फॉउण्डेशन को तैयार किया गया।

अब इस फाउंडेशन की एक Officially Website भी तैयार गयी थी। इस वेबसाइट पर पूरी दुनिया से लगभग 200 धरोहरों को शामिल किया गया था। इसके बाद एक ऑनलाइन वोटिंग का मॉडल बनाया गया। इस मॉडल के अंदर लगभग करीब 100 मिलियन लोगो ने ऑनलाइन वोटिंग की यह वोटिंग कई साल तक चलती रही। अंत में 2007 में दुनिया के कुछ नए अजूबे भी सामने आये जिन्हे लोगो ने वोटिंग से चुना था।

दुनिया के सात अजूबे || Duniya Ke Saat Ajoobe unke Naam Aor Photo

1. चीन की दीवार “Great Wall of China”

चीन की विशाल दिवार के बारे में सभी लोग जानते है चीन की दिवार दुनिया की सबसे बड़ी दीवार है।यह दुनिया के सात अजूबो में से एक है।

चीन की दिवार का निर्माण पाँचवीं शताब्दी ईसा पूर्व से लेकर सोलहवी शताब्दी तक पूरा हुआ था। इस दीवार की लम्बाई लगभग 6400 किलोमीटर है और 35 फिट इसकी ऊंचाई है, और चौड़ाई एक बड़े हाइवे की बराबर है। यह दीवार मिट्टी, ईंटो और पत्थरों से बनी है। 

इस दीवार को बनाने 5 वीं शताब्दी से लेकर 16 शताब्दी तक बनवाया गया। इसे चीन के कई शासकों और राजाओं द्वारा उत्तरी हमलावरों से बचने के लिए बनाया गया था। चीन की दिवार को युनेस्को द्वारा 1949 से विश्व धरोहर के रूप में घोषित किया गया था।इस दिवार की महानता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है,कि अंतरिक्ष से दिखाई देती है।

2. चीचेन इट्ज़ा Chichen Itza

चीचेन इट्ज़ा युकाटन मैक्सिको में स्थित है। एक प्राचीन मयान मंदिर है। Chichén Itzá एक स्पेनी शब्द है, जिसका मतलब “इट्ज़ा के कुएं के मुहाने पर” होता है। चिचेन इत्ज़ा मेक्सिको की सबसे प्राचीन स्थलों में से एक है। इसका निर्माण 600 ईसा पूर्व में किया गया था। यहाँ का माया मंदिर लगभग 5 किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है।

7 Wonders of the World Names in Hindi

जिसकी ऊंचाई 79 फिट है, जिसका आकर पिरामिड की तरह है। इस मंदिर में ऊपर जाने के लिए चारो और सीढ़ियां बनी हुई है। जिसमे कुल 365 सीढ़िया है। इस तरह से इसके चारो कोनो में 91 सीढ़ियां है। कुछ लोगो का ऐसा भी माना है, की प्रत्येक सीढ़ी एक दिन का प्रतिक है। इसका निर्माण 800 से 1200 एडी में हुआ था। इसके अलावा चीचेन इट्ज़ा माया का सबसे अधिक जनसंख्या वाला क्षेत्र है, जो की जनसँख्या के साथ साथ क्षेत्रफल में भी अन्य शहरों से बड़ा है।

यह एक बहुत ही लोकप्रिय पर्यटक स्थान है। जिसे लोग दुनियाभर से देखने के लिए आते है। 

पेट्रा एक ऐतिहासिक नगरी है, जो की अपनी पत्थर से तराशी गयी इमारतों के लिए पूरी दुनिया में लोकप्रिय है। पेट्रा जॉर्डन के मान म’आन प्रान्त में स्थित है। कुछ विद्यमानो का ऐसा मानना है, की पेट्रा का निर्माण 1200 ईसा पूर्व हुआ था। यह नबातियों ने अपनी राजधानी के लिए स्थापित की थी।

3. पेट्रा Petra यूनेस्को 

पेट्रा एक ऐतिहासिक नगरी है। यह अपनी पत्थर से तराशी गयी इमारतों के लिए पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है। पेट्रा एक “होर” के पर्वत की ढलान पर बनी हुई है। इसके चारो और ऊँचे ऊँचे पहाड़ है। यह पहाड़ी इलाका मृत सागर की “वादी अरबा” घाटी की पूरबी सीमा है।  लोग इस नगरी को दूर-दूर से देखने के लिए आते है और यहाँ की इमारतों को देखकर आनंद लेते है। पेट्रा यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर स्थल की सूचि में शामिल है। जो की संसार के सात अजूबो में शामिल है। 

4. माचू पिच्चु Machu Picchu (Peru)

7 Wonders of the World Names in Hindi

माचू पिच्चु दक्षिण अमेरिका के पेरू में स्थित है।इसे ऐतिहासिक स्थल को “इंकाओं का खोया शहर “ के नाम से भी जाना जाता है। इसकी ऊंचाई समुन्द्र तल से 2430 मीटर है। हालाँकि माचू पिच्चू कुज़्को क्षेत्र से लगभग 80 किलोमीटर दूर है। इसका निर्माण 1400 के आसपास राजा पचाकुती ने करवाया था।  माचू पिच्चू को 1430 ई. के आस पास इंकाओं ने इसका निर्माण अपने शासकों के आधिकारिक स्थल के रूप में किया था। लेकिन 100 साल बाद इस स्पेन के लोगो ने इंकाओं पर जीत हासिल कर ली थी।जिसके बाद माचू पिच्चू को ऐसे ही छोड़ दिया गया था।1983 में महक पिच्चू को विश्व धरोहर स्थल के रूप में घोषित किया गया। इसके बाद माचू पिच्चू को 7 जुलाई 2007 में इसे दुनिया के सात अजूबे (7 Wonders of the World in Hindi) में शामिल किया गया। 

5. क्राइस्ट रिडीमर Christ the Redeemer Statue

क्राइस्ट रिडीमर ब्राजील के रियो डी जेनेरो शहर में स्तिथ कांक्रीट और सोपस्टोन से निर्मित एक बहुत ही शानदार स्टेचू है।  जिसे दुनिया की लोकप्रिय धरोहरों में शामिल किया गया है।यह दुनिया की सिर्फ एक ही येशु मसीह की इतनी बड़ी मूर्ति है, इस स्टेचू की ऊंचाई लगभग 125 फिट, चौड़ाई 28 मीटर है और इस मूर्ति में कुल 635 टन वजन है। इस मूर्ति को कांक्रीट और सोपस्टोन से बनाया गया है। 

7 Wonders of the World Names in Hindi

7 Wonders of the World Names in Hindi

क्राइस्ट द रिडीमर का निर्माण सन 1922 में शुरू किया गया था,  1931 चला। इस मूर्ति को बनाने वाला एक फ्रैंच का महान मूर्तिकार लेनदोव्सकी था। क्राइस्ट द रिडीमर पूरी दुनिया में ईसाई धर्म का एक बड़ा प्रतिक मानी जाती है।

❤️New best Ghamand quotes, status, shayari in hindi😊

Best 2020 Attitude Shayari बेस्ट ऐटिट्यूड शायरी हिंदीमें

6. कोलोज़ीयम (The Roman Colosseum)

कोलोज़ीयम The Roman Colosseum इटली देश के रोम नगर शहर में स्थित है। यह एक विशाल स्टेडियम या खेल का मैदान है। इस स्टेडियम को कंक्रीट और रेत से बनाया गया था।इस स्टेडियम को कंक्रीट और रेत से बनाया गया था। यह स्टेडियम इतना विशाल था, की एक साथ इसमें लगभग 50000 से 80000 लोग एक साथ बैठ सकते है। 

इस स्टेडियम का आकर अंडाकार था। यह मात्र लोगो के मनोरंजन के लिए बनाया गया था। इसके अंदर खुनी लड़ाईया कराई जाती है। जिसमेयोद्धाओं द्वारा पशुओं के साथ लड़ाइयाँ लड़ी जाती थी। कुछ विद्यमानो का ऐसा मत है, की इस स्टेडियम में इन खुनी खेलों के दौरान लगभग 5 लाख पशु और 10 लाख मनुष्य मारे गए है।

लेकिन पूर्व मध्यकाल में कोलोज़ीयम स्टेडियम को सार्वजानिक उपयोग पर प्रतिबन्ध लगा दिया गया। इस स्टेडियम का कुछ हिस्सा भूकंप और प्राकृतिक आपदाओं की वजह से नष्ट हो गया है। वर्तमान समय में यह पूरी दुनिया में लोकप्रिय है। यहाँ प्रत्येक वर्ष हजारो की संख्या में पर्यटक आते है

7. ताजमहल Taj Mahal

ताजमहल पूरी दुनिया में अपनी सुंदरता के लिए लोकप्रिय है  जाता हे। जो की भारत के आगरा शहर में स्तिथ है। ताजमहल मुग़ल काल की वास्तु का एक शानदार नमूना है।  इसका निर्माण सन 1632 – 1653 में पूरा हुआ था। जिसकी ऊंचाई 73 मीटर है।

7 Wonders of the World Names in Hindi

7 Wonders of the World Names in Hindi

यह उस्ताद अहमद लाहौरी द्वारा बनाया गया था ताजमहल को मुग़ल बादशाह शाहजहाँ ने अपनी बेगम मुमताज की याद में एक प्यार की निशानी के रूप में बनाया था।

ताजमहल के निर्माण के लिए उस समय दुनिया के कई हिस्सों से सफ़ेद संगमरमर पत्थर को मंगवाया गया था। ताजमहल को सन 1963 में युनेस्को विश्व धरोहर की सूचि में शामिल किया गया था। इसके अलावा इसे भारत की इस्लामी कला का रत्न भी माना जाता है।

ताजमहल पूरी दुनिया में अपनी सुंदरता के लिए जाना जाता है। ताजमहल भारत के आगरा शहर में स्तिथ है। ताजमहल को बनाने में लगभग 15 साल लगे थे। इसकी कुल ऊंचाई 73 मीटर है। ताजमहल को मुग़ल बादशाह शाहजहाँ ने अपनी पत्नी मुमताज की याद में एक प्यार की निशानी के लिए बनाया था। 

ताजमहल को बनाने के लिए उस समय दुनिया के कई हिस्सों से सफ़ेद संगमरमर पत्थर को मंगवाया गया था। इसकी सुंदरता लोगो को बहुत पसंद है। दुनिया भर से लोग ताजमहल को देखने के लिए आते है।

FAQ 

दुनिया में कितने अजूबे हैं

दुनिया में 7अजूबे हैं ताजमहल चीचेन इट्ज़ा क्राइस्ट द रिडीमर की प्रतिमा कोलोसियम चीन की विशाल दीवार माचू पिच्चू पेत्रा

दुनिया का पहला अजूबा कौन सा है

चीन की दीवार: 8वीं शताब्दी

प्राचीन विश्व के सात अजूबे कौन कौन से है

उस समय के सात अजूबे थे (7 Wonders of the Old World ) – ग्रेट पिरामिड ऑफ़ गिज़ा टेम्पल ऑफ़ आर्टेमिस हैंगिंग गार्डन ऑफ़ बेबीलोन स्टेचू ऑफ़ ज़ीउस अट ओलम्पिया कोलोसुस ऑफ़ रोडेज माउसोलस का मकबरा लाइटहाउस ऑफ़ अलेक्सान्दिरा

सात अजूबों में से भारत में कितने अजूबे हैं?

दुनिया भर की सात अजूबों में भारत का ताजमहल शामिल है। अब शंघाई कॉर्पोरेशन ऑर्गेनाइजेशन ने स्टेच्यू ऑफ यूनिटी को विश्व के आठवें अजूबे में शामिल कर लिया है।

Leave a Comment